Posted on: November 13, 2021 | Author: jobjagran | Category: Box1, JHARKHAND UPDATE

Land record jharkhand

Jharbhoomi | Land Record Jharkhand | khatian plot information

What is Land Record?

Land record jharkhand, Land records in Republic of India have evolved over the centuries. Land revenue was the most supply of revenue for the Indian rulers and so for the British. this sort of preparation and maintenance of land records originated throughout the Mughal period.Land record jharkhand.

It is incredibly troublesome for a standard man to grasp his own rights. Corruption and lack of transparency are different problems regarding land records in India. the govt. of India realised these issues and began the National Land Records Modernization Program (NLRMP) with the aim of standardizing and computerizing all land records in Republic of India in an exceedingly phased manner. All land records and connected services are being created on-line beneath NLRMP. Some states have already processed their land records whereas some are in process.

Land record jharkhand

What is National Land Records Modernization Program?

The National Land Records Modernization Program (NLRMP) has been launched by the govt. of India in August 2008, aimed toward modernizing the management of land records, reducing the scope of land / property disputes, increasing transparency within the land record maintenance system and eventually To facilitate growth. Conclusive title for immoveable properties in the country. the foremost parts of the program are automation of all land records, together with mutation, digitisation of maps and integration of matter and abstraction data, survey / re-survey and change of all survey and settlement records, where necessary, of the initial register records. All survey and settlement records including construction, registration and land integration maintenance system, development of core geospatial system (GIS) and its integration with capability building.

Land record jharkhand

Objectives of National Land Records Modernization Program

The main objective of the NLRMP is to develop a modern, comprehensive and clear land record management system within the country, with the target of implementing a decisive land-title system with conclusive guarantees, which {is able to} be supported four basic principles, as follows. :

A single window for handling land records (including the upkeep and change of matter records, maps, survey and settlement operations and registration of real estate).The mirror theory, that refers to the very fact that the register record reflects ground reality.The curtain theory that indicates that the title record is a true depiction of possession status, mutation is automatic and mechanically following registration and a relation to the previous record isn’t required.Title insurance, which guarantees title to its correctness and condemns the title holder against any loss caused by any defect in it.

Jharkhand Land Record System

The Department of Revenue and Land Reforms of Jharkhand has developed the MIS portal http://jharbhoomi.nic.in together with the National information processing Center (NIC) to digitalise the land record system in Jharkhand. a significant objective of this web site is to produce the Jharkhand Land Record (Khasra, Khata) details on-line to the citizen.

Different reasons why Land Records (Khasra, Khata, Register-II details) are required?

You can want your Jharkhand land record for the subsequent reasons:

2. For checking Mutation status.

3. to boost farm credit / loan from the Bank.

4. For checking account opening.

5. To verify land title throughout sale of land and registration of property.

6. For division of land.

7. Personal purpose.

8. Legal purposes.

Jharbhoomi- Land Record Jharkhand Check Online

WWW.JOBJAGRAN.COM

Jharbhoomi | Land Record Jharkhand

Paragraph Land Record Online Jharkhand
Official Website www.jharbhoomi.nic.in
District  All 24
State Jharkhand, India
Check Online

Jharbhoomi | Land record Jharkhand | khatian plot

भारत अब डिजिटल इंडिया बन रहा है| इसके तहत झारखंड के सभी भूमि रिकॉर्ड को ऑनलाइन किया जा रहा है| और बहुत सारे भूमि को ऑनलाइन किया जा चुका है| उसी में से एक झारखंड झारभूमि है| जो कि झारखंड सरकार का जमीन से जुड़े एक ऑनलाइन पोर्टल है| जो लोगों को संपूर्ण भूमि का विवरण प्रदान करता है| इसमें भूमि रिकॉर्ड, खतियान, नकल, खसरा, भूमि का उत्परिवर्तन, भूमि,का कर भुगतान, राजस्व और रजिस्ट्री रिकॉर्ड्स ऑनलाइन पोर्टल से किए जाते हैं| इस पोर्टल के माध्यम से अपने-अपने भूमिका रिकॉर्ड चेक कर सकते हैं| और अपनी भूमि के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं| इस वेबसाइट के माध्यम से रिकॉर्ड को देख सकते हैं|   www.jharbhoomi.nic.in 

Jharbhoomi | Land record Jharkhand , झारखंड भूमि रिकॉर्ड (URL- www.jharbhoomi.nic.in) झारखंड सरकार की एक महत्वपूर्ण आधिकारिक वेबसाइट है। लोग झारखंड अपना खाता वेबसाइट पर अपना खाता नंबर दर्ज करके भूमि के सभी रिकॉर्ड देख सकते हैं। इसमें सभी भूमि संबंधी कार्य ऑनलाइन किए जाते हैं। इस लेख में झारभूमि के बारे में सभी महत्वपूर्ण जानकारी की जाँच करें। यहां आपको झारखंड भूमि रिकॉर्ड, इसके लाभ, इसका उपयोग कैसे करें और अन्य जानकारी के बारे में विस्तृत जानकारी मिलेगी।

  झारभूमि  महत्वपूर्ण लिंक्स Jharbhoomi | Land record Jharkhand

 लॉगिन पेज, Login page यहाँ क्लिक करें
अपना खाता देखें,Check your account यहाँ क्लिक करें
 पंजी -II – खेसरा वार विवरण यहाँ क्लिक करें
राजस्व,निबंध एवं भूमि यहाँ क्लिक करें
 रजिस्टर-II देखें यहाँ क्लिक करें
खाता एवं रजिस्टर-II देखें यहाँ क्लिक करें

झारभूमि का उद्देश्य

Jharbhoomi | Land record Jharkhand

  • राज्य के नागरिकों को भूमि रिकॉर्ड विवरण (खसरा और खत्ता) प्रदान करें।
  • योजनाओं और परियोजनाओं के लिए भूमि का हस्तांतरण।
  • राजस्व और रजिस्ट्री रिकॉर्ड का डिजिटलीकरण।
  • जमीन का ऑनलाइन म्यूटेशन।
  • भूमि कर का ऑनलाइन भुगतान।
  • झारभूमि भूमि या संपत्ति से संबंधित धोखाधड़ी गतिविधियों के खिलाफ रोकथाम।

झारभूमि में अपना जमीन का रिकॉर्ड इस प्रकार देखा जा सकता है| 

झारभूमि में पंजीकरण कैसे करे ? (Jharbhoomi Registration)

  • सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट – www.jharbhoomi.nic.in पर होमपेज पर जाएं,
  • यह पेज झारखंड की वेबसाइट पर जाने के बाद खुलेगा।
  • आपको “खाता और रजिस्टर-II देखें” लिंक पर क्लिक करना होगा।

Jharbhoomi Land Record Jharkhand Check Online

जमीन का रिकॉर्ड कैसे चेक करे ? (How to Check Land Record)

  • सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट – www.jharbhoomi.nic.in पर जाएं
  • अब आपको वेबसाइट के होमपेज पर “See Register-II” का विकल्प दिखाई देगा।
  • उस विकल्प पर क्लिक करें।
  • अब आपको डिजिटल झारभूमि मैप दिखाई देगा।

Jharbhoomi Land Record Jharkhand Check Online

  • उस जिले का नक्शा पर क्लिक करना होगा|

Jharbhoomi Land Record Jharkhand Check Online

  • अब आपको अपना जिला चुनना होगा जहां संपत्ति या जमीन है।
  • उसके बाद, आप अपना गाँव चुनते हैं।
  • अब एक नया पेज खुलेगा।

Jharbhoomi Land Record Jharkhand Check Online

  • अब आपको अपना अकाउंट नंबर, खसरा नंबर आदि देना होगा।

Jharbhoomi Land Record Jharkhand Check Online

  • अब आप अपना भूमिका रिकॉर्ड को देख सकते हैं|

Jharbhoomi Land Record Jharkhand Check Online

Q. How can I check my land record in Jharkhand?

Ans. हां, आप झारखंड में अपना भू-अभिलेख देख सकते हैं। झारखंड सरकार की वेबसाइट www.jharbhoomi.nic.in, झारखंड पर लॉग इन करके, इसे अगले चरण पर जाना होगा। लॉग इन करने के बाद, आपको अपने जिले का चयन करना होगा। जिले का चयन करने के बाद, ब्लॉक का चयन किया जाएगा। इसके बाद, लाइटर को चुनना होगा। तुम्हारी जमीन कितनी हल्की है? इसके बाद, आपको अपना गांव चुनना होगा। और फिर आपको अपना लैंड अकाउंट प्लॉट डालना होगा, उसके बाद आप अपनी जमीन के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

Ans. खतियान शब्द यानी जिस कागजात में स्थान का नाम, किसान का नाम, गांव का नाम, ताऊजी नंबर, खाता नंबर, प्लॉट नंबर, थाना नंबर, रकवा, भूमि का किस्म, उस भूमि पर स्थित मकान, पेड़, मंदिर, मस्जिद, सड़क इत्यादि का विवरण होता है| एवं प्लॉट का चौहद्दी, जमींदार का नाम, रैयत का नाम, पिता का नाम, जाति, तौजी नंबर,नगदी लगान इत्यादि अंकित रहता है| प्रत्येक किसान के लिए अलग-अलग खाता नंबर रहता है| खतियान अपने अंचल कार्यालय से प्राप्त किया जा सकता है| और अपने इलाके के कर्मचारी से प्राप्त कर सकते हैं|

खतियान का प्रकार

  1. रैयती खतियान:- सामान्य भूमि धारियों का विवरण जिस खतियान में लिखा रहता है| उसे रैयती की खतियान कहा जाता है|
  2. सिकमी खतियान:- बटाई, हुंडा अथवा चौथाई के रूप में प्रदान किए गए, जमीन का विवरण जिस  खतियान में लिखा होता है, उसे  में सिकमी खतियान कहते हैं|
  3. मुस्तवाहा खतियान:- इनाम के रूप में, दान के रूप में या किसी भी तरह का उपहार के रूप में जमीन देना ,मुस्तवाहा खतियान   खतियान के रूप में दर्ज किया जाता है|
  4. मुक्त तनाजा खतियान:- झगड़ालू जमीन का विवरण फैसला होने तक के लिए जिस खतियान में दर्ज किया जाता है,उसे मुक्त तनाजा खतियान  कहा जाता है|
  5. झारखंड सरकार का खतियान:- छोटा जंगल, छोटी नदी, छोटा बांध, जलाशय, पुरानी परती भूमि, लावारिस भूमि इत्यादि का विवरण झारखंड सरकार के खतियान में दर्ज किया जाता है| झारखंड सरकार का खतियान कहा जाता है|
  6. भारत सरकार का खतियान:- बड़ा जंगल, बड़ी नदी, बड़ा बांध, पर्वत, समुद्री क्षेत्र, टापू इत्यादि जमीनों का विवरण जिस खतियान में दर्ज किया जाता है| तो भारत सरकार का खतियान कहा जाता है|

Q.How can I get mutation online in Jharkhand?

Ans. झारखंड सरकार की आधिकारिक वेबसाइट झारभूमि में जाना होगा। लॉग इन करने के बाद एप्लीकेशन ऑप्शन का स्टेटस आएगा। इसमें क्लिक करने के बाद झारखंड का नक्शा दिखाई देगा। वह जिला जहां आप उत्परिवर्तन की स्थिति जानना चाहते हैं। मोटापा हुआ है या नहीं, इसके बारे में जानना चाहते हैं। तो उस जिले में क्लिक करें। फिर, उस जिले का एक ब्लॉक मैप दिखाई देगा। अब मैप पर ब्लॉक पर क्लिक करें। इस पर आने पर, आपको  विकल्प मिलेगा| आपको उस पर क्लिक करना है। यहां  स्थिति को कई तरह से देखा जा सकता है। पहला प्रकार, सबसे पहले, जिस वर्ष आपने गतियों के लिए आवेदन किया है। आपके वर्ष का उल्लेख करना होगा। इसके बाद आपके पास मोबाइल पर एक नंबर आएगा। वह नंबर दर्ज करें। अगला पेज खोलने के बाद, व्यू पर क्लिक करें।

Q.How do I check my mutation status online?

Ans:-झारखंड सरकार की आधिकारिक वेबसाइट झारभूमि में जाना होगा। लॉग इन करने के बाद एप्लीकेशन ऑप्शन का स्टेटस आएगा। इसमें क्लिक करने के बाद झारखंड का नक्शा दिखाई देगा। वह जिला जहां आप उत्परिवर्तन की स्थिति जानना चाहते हैं। मोटापा हुआ है या नहीं, इसके बारे में जानना चाहते हैं। तो उस जिले में क्लिक करें। फिर, उस जिले का एक ब्लॉक मैप दिखाई देगा। अब मैप पर ब्लॉक पर क्लिक करें। इस कदम पर आने पर, आपको  विकल्प मिलेगा। आपको उस पर क्लिक करना है। यहां  स्थिति को कई तरह से देखा जा सकता है। पहला प्रकार, सबसे पहले, जिस वर्ष आपने गतियों के लिए आवेदन किया है। आपके वर्ष का उल्लेख करना होगा। इसके बाद आपके पास मोबाइल पर एक नंबर आएगा। वह नंबर दर्ज करें।


Social tagging: > > > >

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *